क्या खत्म हो गया गबर का करियर – बीसीसीआई क्यों नहीं दे रही टीम में जगह

शिखर धवन काफी लंबे समय से भारतीय टीम का हिस्सा भाई है। शिखर ने अपना पिछला मैच श्री लंका के साथ जुलाई में खेला था। तब शिखर भारतीय टीम के कप्तान भी थे। इसके बाद से शिखर ने एक भी अंतर्राष्ट्रीय गेम नही खेला।

ऐसा नहीं है की गब्बर का फॉर्म खराब है। गब्बर ने आईपीएल में भी अच्छा प्रदर्शन किया था। इसपर बीसीसीआई पर भी कई सवाल उठाए जा रहे है। बीसीसीआई नए खिलाड़ियों को ज्यादा मौका दे रही है।

Shikhar Dhawan

इसका एक कारण गब्बर की उम्र को बताया जा रहा है। दरअसल गब्बर 2023 तक 37 की उम्र से अधिक के हो जाएंगे। शायद इसी लिए बीसीसीआई शिखर को ज्यादा मौके नही दे रहे है। इसके अलावा वन डे में उनकी जगह केएल राहुल ने ले ली है।

भारत 2023 वर्ल्ड कप के लिए अपनी टीम तैयार कर रहा है। इसलिए नए खिलाड़ियों को अभी से मौका दिया जा रहा है। जैसे ऋतुराज गायकवाड, वेंकटेश अय्यर, उमरान मालिक आदि को।

क्या इसे गब्बर के करियर का खत्म होना बोला जा सकता है। इस गब्बर का करियर खत्म होना नही कहा जा सकता। गब्बर को 2022 में टी 20 में आखिरी मौका मिल सकता हैं। संभावना है की यदि गब्बर अपने फॉर्म ने रहे तो 2022 के टी 20 वर्ल्ड कप में उनका चयन हो जाए।